सोयाबीन को जीवनदान

www.krishakjagat.org
Share

मध्य प्रदेश में खरीफ की प्रमुख फसल सोयाबीन को दूसरे दौर की वर्षा प्रारंभ होने से नया जीवनदान मिल गया है। किसानों की चिंताएं कुछ कम हुई है। पूर्व में शुरूआती मानसून के बाद लबे सन्नाटे के कारण राज्य के कुछ जिलों में फसल खराब होने तथा दुबारा बोनी की नौबत आ गई थी। सूखे के कारण बीज दफन हो रहा था। परन्तु अब स्थिति संभल गई है।

प्रदेश में खरीफ की बुवाई तेजी से चल रही है। अब तक 125.92 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के विरुद्ध 77.85 लाख हेक्टेयर में बोनी की गई है इसमें सोयाबीन 47.13 लाख हेक्टेयर में बोई गई है। जो लक्ष्य का 83 फीसदी है। अन्य प्रमुख फसलों में अब तक धान 4.95 लाख हे. में, मक्का 9.14, तुअर 2.51, उड़द 3.99, मूंगफली 1 लाख हेक्टेयर में तथा कपास 5.32 लाख हेक्टेयर में बुवाई की गई है। राज्य में अब तक कुल अनाज फसलें 16.14 लाख हे. में, कुल दहलनी फसलें 7.25 लाख हे. में, कुल तिलहनी फसलें 49.14 लाख हेक्टेयर में बोई गई हैं।
कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि वर्षा के थमने तक किसानों को बोवाई, रासानिक तरीकों से नींदा नियंत्रण या कीटनाशकों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। विशेष रूप से भारी वर्षा वाले क्षेत्रों में जल निकास के समुचित प्रबंध करने का अनुरोध भी किसानों से किया गया है। खेतों में जल भराव दो-तीन दिन से अधिक समय तक होने पर जड़ों तक वातायन नहीं होता तथा नत्रजन स्थिरीकरण नहीं होने से पौधे पीले पड़ जाते हैं। पौधों की वृद्धि रुकने तथा फसल खराब होने का खतरा भी बढ़ सकता है।

मौसम विभाग का कहना है : करीब दो हफ्ते सूखे निकलने के बाद राजधानी और प्रदेश में झमाझम बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है। मौसम विभाग ने तो म.प्र. के पूर्वी हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में बारिश होगी। मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक डॉ. अनुपम काश्यपि के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में एक सिस्टम बना है। यह सिस्टम पश्चिम बंगाल के मैदानी इलाके और झारखंड में पहुंच चुका है। सिस्टम प्रदेश की तरफ बढ़ रहा है। इस सिस्टम के कारण प्रदेश में बारिश शुरू हो गई है।
इन जगहों पर भारी बारिश की चेतावनी : मौसम विभाग ने शहडोल और जबलपुर संभाग के साथ-साथ सीधी, सिंगरौली, होशंगाबाद, रायसेन, सागर, दमोह के कुछ इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसके अलावा होशंगाबाद, भोपाल, रायसेन, विदिशा जिले की ज्यादा से ज्यादा जगह पर मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। मुरैना, दतिया, ग्वालियर, झाबुआ, धार, बड़वानी में हल्की बारिश और शेष इलाकों में अच्छी बारिश की संभावना है।

www.krishakjagat.org
Share

One thought on “सोयाबीन को जीवनदान

Comments are closed.

Share