सहकारी संस्थाओं में गड़बड़ी पर सख्त कार्रवाई

सहकारिता विभाग की समीक्षा

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सहकारी संस्थाओं में गड़बड़ी रोकने के लिए सख्त कार्रवाई की जाये। गृह निर्माण सहकारी समितियों की व्यवस्था को पारदर्शी बनाया जाये। इन संस्थाओं में सदस्यों के साथ गड़बड़ी करने वाले दोषियों पर कड़ी वैधानिक कार्रवाई की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यह निर्देश सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक में दिये। बैठक में सहकारिता, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव और मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि बीज उत्पादक सहकारी समितियों को सशक्त बनाया जाए। बेहतर काम करने वाली बीज उत्पादक सहकारी समितियों को पुरस्कृत करें। उन्होंने कहा कि किसान को मिलने वाला बीज प्रामाणिक हो, इसकी सुदृढ़ व्यवस्था हो। एकीकृत सहकारी विकास परियोजनाओं में किये गये कामों का भौतिक सत्यापन करवायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की ऋणग्रस्तता को दूर करने के दीर्घकालिक उपायों पर ध्यान दें। फल और सब्जी उत्पादन के लिये सहकारिता के आधार पर रूट बनायें। सहकारी बैंकों की वसूली पर विशेष ध्यान दें। सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों की आमदनी बढ़ाने की योजना बनायें। बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त श्री पी.सी. मीना, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री अजीत केसरी, प्रमुख सचिव वित्त श्री आशीष उपाध्याय, मुख्यमंत्री के सचिव श्री विवेक अग्रवाल, पंजीयक सहकारी संस्थाएँ श्री मनीष श्रीवास्तव भी उपस्थित थे।

www.krishakjagat.org
Share