समस्या – हमारे खेत में बैंगन की पत्तियां शाखा में छोटी हो गई हंै तथा गुच्छे बन गये हंै यह कौन सा रोग है, बचाव के उपाय बतायें।

www.krishakjagat.org

– नारायण पवार, छिंदवाड़ा
समाधान- बैंगन, मिर्च में पत्ती सिकुडऩ तथा गुच्छा बनने के रोग का कारण ‘माईकोप्लाजमाÓ है यह ‘वाईरस तथा बैक्टीरियाÓ के संकरण से प्रकृति में निर्मित होता है और अनेक फसलों में रोग बनाता है। बैंगन का यह रोग ‘लिटिल लीफÓ ‘छोटी पत्तीÓ के नाम से जाना पहचाना जाता है जो भयंकर नुकसान पहुंचाने की क्षमता रखता है। इस रोग का प्रसार फसलों में हरा चेंपा कीट के द्वारा होता है जो रोगग्रस्त पौधों का रस चूसकर नये पौधों में रोग फैलाता है इसकी रोकथाम के लिये निम्न उपाय करें।

  •     पौधों पर रोग के प्रथम लक्षण दिखाई पडऩे के तुरंत बाद उसे उखाड़ कर खाद के गड्ढ़ों में डाल दें।
  •     चेंपा कीट की सक्रियता रोकने के लिये डायजिनान 20 ई.सी. अथवा 4′ दानेदार चूर्ण 25 किलो/हे. की 1625-2500 मि.ली./हे. की दर से छिड़काव करें।
  •    मिर्च, बैंगन की फसल साथ-साथ ना ली जाये क्योंकि इससे कीट के विस्तार के लिये मौका मिलता है।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share