समस्या- मेरे पास 5 एकड़ भूमि है, मैं खरीफ मौसम में रामतिल लगाना चाहता हूं कृपया तकनीकी बतायें।

www.krishakjagat.org

– रामस्वरूप सिंह, परासिया
समाधान- रामतिल का तेल स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। इसको खरीफ में विशेष विस्तार नहीं मिल सका परन्तु कम खर्च से अधिक लाभ देने वाली इस फसल का क्षेत्र बढऩा चाहिए। आप इसे लगायें तथा निम्न तकनीकी भी अपनायें।

  •  जातियों में उत्कमंड एवं नं. 5, मुख्य है अन्य किस्मों में जे.एन.सी. 6, जे.एस. 1.
  •  इसका 4 से 5 किलो बीज प्रति हेक्टेयर पर्याप्त होगा।
  •  इसको बोने का उपयुक्त समय जुलाई के तृतीय सप्ताह से अगस्त का प्रथम सप्ताह है। द्य कतार से कतार दूरी 30 से.मी. पौध से पौध 10 से.मी. बीज 3-4 से.मी. गहराई पर डालें।
  •  गोबर की खाद 12-14 गाड़ी 43 किलो यूरिया 188 किलो सिंगल सुपर फास्फेट तथा 17 किलो म्यूरेट आफ पोटाश प्रति हे. की दर से डालें।
  • टाप ट्रेसिंग के लिए बुआई के 35 दिन बाद 43 किलो यूरिया प्रति हेक्टर की दर से दिया जाये। द्य निंदाई- गुड़ाई बुआई के 30-35 दिन बाद अवश्य करें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share