समस्या- गन्ना काटने के बाद जड़ी की फसल लेना चाहते हैं रखरखाव कैसे करें।

www.krishakjagat.org

– मनमोहन राव, आठनेर
समाधान- गन्ने की जड़ी फसल के बारे में अनुभवी वैज्ञानिक का विस्तार से लेख का प्रकाशन कृषक जगत के अंक 5 दिनांक 14 से 20 अक्टूबर में किया गया है। आप तो हमारे सदस्य हैं आपने पढ़ा भी होगा फिर भी प्रति उत्तर का लाभ अन्य कृषकों को मिल सके इस कारण प्रमुख बिन्दुओं पर प्रकाश डाला जा रहा है।

  • खेत में लगी उत्तम जाति का ही चयन इसके लिये करें।
  • गन्ने की कटाई जमीन की सतह से करे ऐसा करने से अधिक कल्ले निकलते हैं।
  • गन्ने की सूखी पत्तियों को कदापि नहीं जलायें उनका उपयोग जैविक खाद स्वरूप करें।
  • हल चलाकर पुरानी जड़ों को तोड़े ताकि नई सक्रिय जड़े अधिक से अधिक मिल सकें।
  • खेत में जहां कहीं भी खाली स्थान दिखते है वहां नई कटिंग अवश्य लगायें ताकि प्रति इकाई पौध संख्या बढ़ सके।
  • जैविक खाद (गोबर खाद) के अलावा 600 किलो यूरिया, 500 किलो सिंगल सुपर फास्फेट तथा 100 किलो म्यूरेट ऑफ पोटाश डालें।
  • द्य यूरिया को 3-4 बराबर भागों में बांट कर सिंचाई उपरांत दें।
  • खरपतवारों को नियंत्रित करें तथा समय से सिंचाई करें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share