समस्या – मैं आंवला लगाना चाहता हूं, कृपया विस्तार से तकनीकी बतायें।

www.krishakjagat.org
Share

– बहादुर सिंग, सागर
समाधान- आंवला एक उपयोगी फल है। जिसे साधारण जमीन में भी लगाया जा सकता है। आप भी आंवला निम्न तकनीकी अपनाकर लगायें।

  •     जातियों में हिसार फतेहाबाद, सिरसा, भिवानी, महेन्द्रगढ़, रिवाडी, बनारसी, चकई या कंचन इत्यादि।
  •     मई-जून में 3&3&3 फुट लम्बे, चौड़े तथा गहरे गड्ढ़े तैयार करके 20 किलो गोबर खाद प्रति गड्ढा, दो किलो सिंगल सुपर फास्फेट से भरें।
  •     अच्छे किस्म के पौधों की रोपाई जुलाई से सितम्बर माह के बीच करें।
  •     एक एकड़ क्षेत्र में 72-76 पौधों को 8-9 मीटर कतार से कतार तथा पौध से पौध पर रोपें।
  •     विकसित पौधों को 10 किलो गोबर खाद, 500 ग्राम यूरिया, 500 ग्राम सिंगल सुपर फास्फेट तथा 1 किलो म्यूरेट ऑफ पोटाश डालें।
  •     अंतरवर्तीय फसलों के रूप में लोबिया, मटर, मूंग, उड़द, मैथी, टमाटर, प्याज, पालक, मिर्च आदि लगाकर दोहरा लाभ लिया जा सकता है।
www.krishakjagat.org
Share
Share