समस्या- अंगूर में सफेद फफूंदी रोग आता है कृपया उपाय बतायें।

www.krishakjagat.org

नारायण पवार, रतलाम
समाधान– यह फफूंद जनित रोग के आने का समय चल रहा है फरवरी तक इसमें प्रकोप बढ़ सकता है। दिसम्बर के माह में यदि रात्रि का तापमान 15 डिग्री से.ग्रे. से ज्यादा तथा दोपहर का 24 डिग्री से कम एवं आद्र्रता 60 प्रतिशत इस अवस्था में रोग अधिक फैलता है। पत्तियों/शाखाओं पर रोग की फफूंदी हवा के द्वारा फैलती है और अवसर पाकर फैलती है। उपाय हेतु निम्न करें।

  • फफूंदी की क्रियाशीलता पर निरीक्षण करते रहें।
  • पत्तियां/शाखाओं में दिखाई देने पर काट कर नष्ट कर दें।
  • बगीचे में सूर्य प्रकाश की व्यवस्था होनी चाहिए।
  • अप्रैल-अक्टूबर के छटनी के बाद रोग आ सकता है ऐसी अवस्था में हेक्साकोनाजोल 0.05 मि.ली./लीटर पानी में घोल बनाकर एक छिड़काव करें।
  • फल तुड़ाई के 25 दिन पहले पहला छिड़काव ट्राईकोडर्मा हरजेसियम तथा दूसरा उसके पांच दिन बाद किया जा सकता है।
  • अन्य रसायनिक रोगनाशी का उपयोग तुड़ाई के 1 माह पहले ही कर दें।
FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share