समन्वित कृषि प्रणाली से नियमित आय एवं रोजगार

www.krishakjagat.org

शिवपुरी। कृषि विज्ञान केन्द्र शिवपुरी द्वारा गत दिनों ग्रामीण युवाओं हेतु रोजगारपरक 5 दिवसीय प्रशिक्षण समन्वित कृषि प्रणाली एवं उद्यमिता विकास का आयोजन हुआ । प्रशिक्षण का शुभारंभ डॉ. आर. एल. राजपूत निदेशक प्रक्षेत्र एवं डॉ. यू. पी. एस. भदौरिया संयुक्त निदेशक विस्तार रा.वि.सि.कृ.वि.वि. ग्वालियर के मुख्य आतिथ्य में हुआ । कार्यक्रम की रूपरेखा एवं महत्व पर केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. पुनीत कुमार, डॉ. आर.एल. राजपूत, डॉ. यू.पी.एस. भदौरिया द्वारा फसल उत्पादन पर विस्तार से बतलाया ।
डॉ. एम. के. भार्गव कृषि वैज्ञानिक (सस्य) द्वारा प्रशिक्षण के दौरान कृषि तकनीकों पर परिचर्चा एवं सफल उद्यमों के प्रदर्शन/ मॉडल्स के बारे में बतलाया। प्रशिक्षण में वैज्ञानिकों एवं विशेषज्ञों श्री पुष्पेन्द्र सिंह (पादप प्रजनन), डॉ. अमृतलाल बसेडिय़ा (कृषि अभियांत्रिकी), डॉ. कमलेश अहिरवार (उद्यानिकी), डॉ. स्वाति सिंह तोमर (पौध संरक्षण) एवं कु. आरती बंसल द्वारा भी व्याख्यान एवं प्रशिक्षणार्थियों को सफल उद्यमों के बारे में बतलाया।
कार्यक्रम में समापन अवसर पर डॉ. एम. पी. जैन पूर्व प्राचार्य राज्य स्तरीय प्रशिक्षण केन्द्र एव्हीएफओ/उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं जिला शिवपुरी द्वारा खेती और पशुधन समन्वय तथा डेयरी उद्यम के बारे में व्याख्यान दिये एवं नवीन डेयरी उद्यमी त्रिलोचन आर्गेनिक ग्राम झूण्ड के डेयरी फार्म पर प्रशिक्षणार्थियों को अवलोकन कराते हुए समस्याओं का समाधान किया गया ।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share