राज्यों में प्याज भंडारण क्षमता बढ़ाएगी सरकार

मध्य प्रदेश में 38,000 टन भण्डारण क्षमता बढ़ेगी

नई दिल्ली। प्याज की बरबादी में कमी लाने के लिए सरकार ने तीन राज्यों में इसकी भंडारण क्षमता 56,800 टन बढ़ाने का फैसला किया है। कृषि मंत्रालय के संयुक्त सचिव श्री शकील अहमद ने कहा कि सरकार ने महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और ओडिशा में प्याज की भंडारण क्षमता बढ़ाने का फैसला किया है ताकि इसकी बरबादी रोकी जा सके। उन्होंने कहा कि इस योजना के मुताबिक मध्य प्रदेश में भंडारण क्षमता 38,000 टन, महाराष्ट्र में 12,000 टन और ओडिशा में 6,800 टन बढ़ाई जाएगी।
ज्ञातव्य है म.प्र. में इस वर्ष एक लाख 30 हजार हेक्टेयर में प्याज बोई गई थी तथा उत्पादन लगभग 40 लाख टन से अधिक होने का अनुमान है। गत वर्ष 1 लाख 25 हजार हेक्टेयर में प्याज की बुआई हुई थी तथा उत्पादन 29 लाख टन एवं उत्पादकता 24 टन प्रति हेक्टेयर थी।
श्री शकील ने कहा कि सरकार शीत भंडारगृह के बारे में एक नई राष्ट्रीय नीति को तैयार करने की ओर भी ध्यान दे रही है। फसल का सीजन न होने के समय मूल्य वृद्धि की स्थिति में बाजार हस्तक्षेप करने के मकसद से बफर स्टॉक बनाने के लिए केंद्र सरकार ने किसानों से लक्ष्य से अधिक यानी 20,000 टन प्याज की खरीद की है। पिछले साल सरकार ने 8,000 टन प्याज की खरीद की थी लेकिन ऐसा तब किया गया जब इसकी खुदरा कीमतें 80 से 90 रुपये प्रति किलोग्राम के उच्च स्तर पर जा पहुंची थीं। हालांकि सरकार ने इस साल समय पर खरीद करने का फैसला किया है और फसल वर्ष 2015-16 (जुलाई से जून) के रबी फसल से 15,000 टन प्याज की खरीद करने का लक्ष्य तय किया था।

6 रु. किलो प्याज खरीदेगी म.प्र. सरकार

  •  प्याज खरीदी का भुगतान सीधे किसान के बैंक खाते में होगा
  • खरीदी के लिए नोडल एजेंसी मार्कफेड
  • भण्डारण के लिए मध्यप्रदेश वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन onion
  • खरीदी मण्डी में होगी, मण्डी में गोदाम नहीं मिलने पर अन्य जगहों पर निगम के गोदामों में ही खरीदी केन्द्र बनेंगे
  •  प्याज क्वालिटी की जांच उद्यानिकी अधिकारी करेगा

भोपाल । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को प्याज की समुचित कीमत दिलाई जायेगी। इसके लिये शासन द्वारा प्याज की खरीदी की जायेगी। किसानों का प्याज छह रुपये प्रति किलो की दर से मार्कफेड द्वारा खरीदा जायेगा। इसके लिये प्रदेश में 71 खरीदी केन्द्र निर्धारित किये गये हैं। प्याज की खरीदी गत चार जून से 30 जून तक की जायेगी। इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त श्री प्रेमचंद मीना ने सभी कलेक्टरों को निर्देश भेज दिए हैं। इसके लिये मार्कफेड को नोडल एजेंसी बनाया गया है। प्रदेश में प्याज खरीदी केन्द्रों की सूची के लिए लॉग ऑन करें-www.krishakjagat.org

प्रदेश में प्याज खरीदी केन्द्र

भोपाल, बैरसिया, सीहोर, आष्टा, गंजबासोदा, ब्यावरा, सारंगपुर, रायसेन, होशंगाबाद, हरदा, इंदौर, सांवेर, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, सेंधवा, बड़वानी, धार, बदनावर, धामनोद, उज्जैन, तराना, नागदा, बडऩगर, खाचरोद, महिदपुर, देवास, कन्नोद, सोनकच्छ, हाटपिपल्या, मंदसौर, शामगढ़, गरोठ, भानपुरा, पिपल्या, नीमच, रतलाम, जावरा, शाजापुर, शुजालपुर, अकोदिया, मोमन बड़ोदिया, सुसनेर, बड़ोद, आगर, नलखेड़ा, सागर, दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, छतरपुर, जबलपुर, पांढुर्ना, सौंसर, छिन्दवाड़ा, चौरई, कटनी, बालाघाट, सिवनी, गाडरवारा, सतना, मैहर, रीवा, हनुमना, लश्कर, शिवपुरी, मुरैना, केलारस, गुना, अशोकनगर एवं दतिया में प्याज खरीदी केन्द्र स्थापित किये गये हैं।

www.krishakjagat.org
Share