रबी उपार्जन की सभी आवश्यक तैयारियां समय रहते पूर्ण कर लें : श्री सिंह

www.krishakjagat.org
Share

मन्दसौर। कलेक्टर श्री स्वतंत्र कुमार सिंह द्वारा रबी उपार्जन वर्ष 2016-17 के सन्दर्भ में संबंधित अधिकारियों को खरीदी हेतु समय-सीमा में सभी आवश्यक तैयारियां करने हेतु निर्देश दिये। रबी उपार्जन वर्ष 2016-17 में गेहूं उपार्जन के लिये 37 खरीदी केन्द्रों का निर्धारण किया गया। आगामी 22 जनवरी 2016 से 22 फरवरी 2016 तक गेहूं उपार्जन हेतु नये किसानों का पंजीयन एवं पूर्व में पंजीकृत किसानों के रकबे में संशोधन किया जाना हैं। रबी उपार्जन वर्ष 2016-17 में नवीन पंजीयन हेतु किसानों के मोबाइल नम्बर, बैंक अकाउंट नम्बर एवं ऋण पुस्तिका/ वनाधिकार पट्टा पंजीयन के समय लाने एवं पूर्व में पंजीकृत किसानों के गेहूं के बोये गये रकबे में संबंधित पटवारी के सत्यापन पश्चात संशोधन किया जाना है। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों (राजस्व) को निर्देशित किया है कि 22 जनवरी से 22 फरवरी तक किसान पंजीयन का सत्यापन एवं संशोधित जानकारी की सॉफटवेयर में प्रविष्टि खरीदी केन्द्रों द्वारा की जाना है। रबी उपार्जन वर्ष 2016-17 में समस्त किसानों के पंजीयन में उल्लेखित गेहूं के बोए गए रकबे का पटवारी द्वारा शत-प्रतिशत सत्यापन किया जाए। पटवारी द्वारा ग्रामीणों के समक्ष गेहूं के बोए गए रकबे के संबंध में सत्यापन पंचनामा बनाकर रकबे मे संशोधन हेतु पंचनामा तहसीलदार के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। पटवारी द्वारा प्रस्तुत सत्यापन पंचनामे का 10 प्रतिशत तहसीलदार द्वारा एवं 5 प्रतिशत अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) द्वारा फील्ड वेरीफिकेशन अनिवार्यत: की जाना है। उन्होने इन अधिकारियों से यह भी कहा है कि इस कार्य की सतत् रूप से मॉनिटरिंग करें एवं अपने अनुभाग के अंतर्गत आने वाले समस्त पंजीकृत किसानों के पंजीयन फार्मो का सत्यापन शत-प्रतिशत तहसीलदार/ पटवारी द्वारा समय-सीमा में अनिवार्यत: करवाया जाना सुनिश्चित करें एवं साथ ही समय-सीमा में खरीदी केन्द्रों को फार्म उपलब्ध करवायें, ताकि किसान पंजीयन सत्यापन की प्रविष्टि ई-उपार्जन सॉफटवेयर में की जा सकें।

www.krishakjagat.org
Share
Share