मध्यप्रदेश में सोयाबीन की 95 और धान की 93 प्रतिशत बुवाई

www.krishakjagat.org
Share

कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रदेश में इस वर्ष 131.20 लाख हेक्टेयर में खरीफ फसलें लेने का लक्ष्य रखा गया है। इसके विरूद्ध अब तक 121.73 लाख हेक्टेयर में बुवाई हो चुकी है जो 92 फीसदी से अधिक है। गत वर्ष इस समय तक 120.97 लाख हे. में बोनी हुई थी।
प्रदेश की प्रमुख तिलहनी फसल सोयाबीन अब तक 52.68 लाख हेक्टेयर में बोई गई है जबकि गत वर्ष इस अवधि में इसकी बोनी 58.34 लाख हेक्टेयर में हो गई थी। हालांकि इस वर्ष सोयाबीन के रकबे में लगभग 5 लाख हेक्टेयर की कमी की गई है तथा दलहनी फसलों के रकबे को बढ़ाया गया है।
राज्य की दूसरी प्रमुख फसल धान अब तक 19.83 लाख हेक्टेयर में बोई गई है। जबकि लक्ष्य 21.23 लाख हे. रखा गया है। गत वर्ष इस समय तक धान की बुवाई 17.75 लाख हेक्टेयर में हुई थी। इसी प्रकार अब तक राज्य में अन्य फसलों की बुवाई में ज्वार 2 लाख हेक्टेयर में, मक्का 12.59, बाजरा 2.31, तुअर 6.82, उड़द 11.18, मूंग 2.06, मूंगफली 2.20 लाख हेक्टेयर में तथा कपास की बुवाई 5.99 लाख हेक्टेयर में हुई है। राज्य में अब तक कुल अनाज फसलें 37.74 लाख हेक्टेयर में, दलहनी फसलें 20.39 लाख हेक्टेयर में एवं तिलहनी फसलें 57.61 लाख हे. में बोई गई है। जानकारी के मुताबिक अब तक उज्जैन संभाग में सबसे अधिक लक्ष्य के विरूद्ध 101 प्रतिशत, भोपाल में 98 प्रतिशत, इंदौर में 97 प्रतिशत एवं शहडोल में 93 तथा जबलपुर संभाग में 91 प्रतिशत बोनी की गई है।

www.krishakjagat.org
Share
Share