बीज संघ के क्षेत्रीय कार्यालयों की संख्या बढ़ेगी

www.krishakjagat.org

संचालक मण्डल की बैठक

भोपाल। प्रदेश में मध्यप्रदेश राज्य सहकारी बीज उत्पादक एवं विपणन संघ की गतिविधियों के विस्तार के लिये क्षेत्रीय कार्यालयों की संख्या में वृद्धि की जायेगी। इस व्यवस्था के लिये राज्य शासन से 6 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष बजट के रूप में प्राप्त किये जाने के प्रयास किये जायेंगे। यह निर्णय राज्य सहकारी बीज उत्पादक एवं विपणन संघ के संचालक मण्डल की बैठक में लिया गया। बैठक में सहकारिता मंत्री श्री गोपाल भार्गव और किसान-कल्याण मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन भी उपस्थित थे।
बैठक में जिला-स्तर पर बीज उत्पादक सहकारी समितियों के काम-काज की समीक्षा की गयी। यह भी तय हुआ कि सहकारी समितियों को आवश्यक सहायता उपलब्ध करवाने के लिये मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया जाये। समिति में उपायुक्त सहकारिता समन्वय सदस्य होंगे। समिति के अन्य सदस्यों में जिले में पदस्थ उप संचालक कृषि, सहायक संचालक उद्यानिकी, बीज प्रमाणीकरण के क्षेत्रीय अधिकारी सदस्य होंगे। बैठक में तय हुआ कि एम.पी. एग्रो द्वारा गोदाम-सह-ग्रेडिंग प्लांट में मशीनरी स्थापित करने का कार्य समय पर नहीं किये जाने से अब यह काम मध्यप्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) द्वारा करवाया जायेगा। यह भी तय किया गया कि बीज संघ के सदस्य समितियों के प्रतिनिधियों को संचालक मण्डल में विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में प्रतिनिधित्व दिया जायेगा। बीज उत्पादक समितियों के 3 प्रतिनिधि को एक-एक वर्ष के लिये क्रमानुसार प्रतिनिधित्व दिया जायेगा। वर्ष 2004 में स्थापित बीज संघ प्रमुख रूप से किसानों को उनकी माँग के अनुरूप बीज उपलब्ध करवाने में मदद करता है। बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. पी.सी. मीना, प्रमुख सचिव कृषि श्री राजेश राजौरा, आयुक्त सहकारिता श्री मनीष श्रीवास्तव, संचालक कृषि श्री मोहनलाल मौजूद थे।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share