बीज एवं कीटनाशक व्यापारियों ने श्रीमती महाजन को सौंपा ज्ञापन

www.krishakjagat.org
Share

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के तुगलकी आदेश को तुरंत वापस लेने की मांग

इंदौर। केंद्र सरकार द्वारा खाद, बीज एवं कीटनाशक के विक्रय लायसेंस हेतु कृषि स्नातक की डिग्री को अनिवार्य किए जाने के विरोध में म.प्र. बीज एवं कीटनाशक विक्रेता संघ का प्रतिनिधिमंडल गत दिनों लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन से मिला और उन्हें अपनी व्यावहारिक समस्याओं से अवगत कराते हुए कृषि मंत्रालय के तुगलकी आदेश को निरस्त कराने हेतु ज्ञापन सौंपा। शिष्ट मंडल में संघ के अध्यक्ष सर्वश्री दिलीप बाकलीवाल, संयोजक सागर जैन, सचिव पारस जैन, प्रहलाद मिश्रा, राजेंद्र नागर, जे.के. अग्रवाल, यू.एस. चौहान, सुरेश मेहता, लक्ष्मीनारण पटेरिया, पवन अग्रवाल, विष्णु सुगंधी सहित अनेक व्यापारी शामिल थे। श्रीमती महाजन ने व्यापारियों की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना और आश्वस्त किया कि वे केंद्रीय कृषि मंत्री को इस विसंगति से अवगत कराएंगी प्रारंभ में संघ की ओर से श्रीमती महाजन का स्वागत भी किया गया।
ज्ञातव्य है कि गत 9 फरवरी को संघ के अह्वान पर प्रदेश भर में खाद, बीज एवं कीटनाशक व्यापारियों ने अपना कारोबार बंद रखकर विरोध जताया था। इस विरोध प्रदर्शन में इन्दौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर सहित प्रदेश के 20 हजार से अधिक व्यापारियों ने कारोबार बंद रखकर प्रदर्शन किया था।

www.krishakjagat.org
Share
Share