बंद गौ-शालाएँ पुनर्जीवित होंगी

भोपाल। प्रदेश में वर्ष 2002 में बंद की गई गौ-शालाओं को पुनर्जीवित किया जायेगा। पशुपालन मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य ने यह बात आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के चातुर्मास में आयोजित दयोदय महासंघ अधिवेशन-2016 में कही। अधिवेशन में पूरे देश के 250 गौ-शाला अध्यक्षों ने भाग लिया। आचार्य श्री ने कहा कि गौ-संवद्र्धन के लिए सरकार कृत संकल्पित हैं। उन्होंने कहा ‘य श्री स: गौÓ जैसी सुन्दर पंक्ति नहीं मिलेगी। जो लक्ष्मी है वही गौ है। गाय घास खाती है परन्तु संसार को पुष्टिकारक दूध देती है  संकल्प ऐसा लीजिए जो केवल आज के लिए नहीं बल्कि आने वाले हजारों वर्षों के लिए भी सार्थक हो।

www.krishakjagat.org
Share