फार्म स्कूल ने सिखाया पौध पोषक तत्वों का महत्व

www.krishakjagat.org

बड़वानी। अंचल में फसल पर सभी पोषक तत्वों की पूर्ति करने वाले उर्वरकों का उपयोग कृषक नगण्य मात्रा में करते हैं। इन सभी पोषक तत्वों की पूर्ति करने वाले उर्वरक का उपयोग, बीज दर कम करने के तरीके बताने के उद्देश्य से फार्म स्कूल का आयोजन किया गया।
पानसेमल विकासखंड के ग्राम सकराली बुजुर्ग में विशेषज्ञ श्री संजय यादव ने कपास, सोयाबीन फसलों पर कीट नियंत्रण, बीज उपचार की विस्तार से जानकारी दी। एचीवर कृषक श्री तुम्वा चौहान के मक्का फसल प्रदर्शन को भी देखा। इस दौरान आत्मा तकनीकी सहायक श्री ओ.पी. पाटीदार, श्री श्रीकांत मंडलोई भी उपस्थित थे। विकासखंड के ग्राम बंधारा बुजुर्ग में आवासीय अध्ययन प्रशिक्षण में कृषकों को कृषि पशुपालन, जैविक खेती की जानकारी दी गई। इस दौरान समूह दक्षता निर्माण अंतर्गत 3 समूहों का गठन किया गया। निवाली विकासखंड के ग्राम सलून में फार्म स्कूल/ एचीवर कृषक श्री राकेश सिलदार किराडे के मक्का फसल प्रदर्शन पर आयोजित किया गया। जिसमें कृषि विशेषज्ञ श्री डी.आर. सितोले, श्री संजय यादव, आत्मा के तकनीकी सहायक श्री एम.एल. पटेल, श्री एम.के. पाटील सहित कृषक मित्र सुश्री मीनाक्षी किराडे उपस्थित थीं। आवासीय अध्ययन एवं समूह दक्षता ग्राम कुंजरी में आयोजित किये गये। सेंधवा विकासखंड के ग्राम जुलवानिया (छोटा) में फार्म स्कूल अवसर पर विशेषज्ञ श्री संजय यादव ने तकनीकी जानकारी दी। इस अवसर पर आत्मा प्रबंधक श्री मुकेश गोस्वामी, तकनीकी सहायक श्री जयपाल यादव, ग्रा.कृ.वि.अधि. श्री विजय सिंह तोमर, एचीवर कृषक श्री सिलदार चौहान उपस्थित थे।  ग्राम बीजापुरी में आवासीय अध्ययन एवं समूहों का गठन किया गया। तीनों विकासखंडों में सोसायटी के समन्वयक प्रकाश दुबे एवं जिला समन्वयक यशवंत कुशवाह के सहयोग से गतिविधियां आयोजित की गई एवं तीनों विकासखंड में ल्यूपिन क्रॉप साईंस प्रा.लि. के श्री पवन पाटिल का भी सहयोग रहा।

FacebooktwitterFacebooktwitter
www.krishakjagat.org
Share