प्याज, लहसुन के खरपतवारों के लिए डेकल

www.krishakjagat.org
Share

इन्दौर। अदामा इंडिया प्रा.लि. ने प्याज व लहसुन फसल में उगने वाले संकरी एवं चौड़ी पत्ती खरपतवारों से पूर्ण निजात दिलाने के लिए नया विडीसाइड डेकल पेश किया है। यह अत्याधुनिक खरपतवारनाशक है जो फसल को सभी खरपतवारों से छुटकारा दिलाने का एक व्यापक समाधान है। उक्त जानकारी कंपनी के जीएम श्री अविनाश पांडे व एजीएम श्री सुजीत पंचारिया ने दी। श्री पंचारिया ने डेकल के बारे में बताया कि यह इस्तेमाल में बेहद आसान है। फसल में शुरुआती अवस्था में डेकल उगे हुए खरपतवारों का विनाशक है। यह चौड़ी व संकरी पत्ती खरपतवारों को नष्ट करके बहुआयामी नियंत्रण करता है। डेकल प्याज व लहसुन फसल के लिए श्रेष्ठ खरपतवारनाशक हैं, इसके प्रयोग से फसल सुरक्षित रहती है। डेकल की दोहरी क्रिया प्रणाली व पहले से मिला हुआ तल सक्रियकारक रसायन अन्य खरपतवारों की तुलना में बेहतर एवं लम्बे समय तक नियंत्रण प्रदान करता है। डेकल तेज स्पर्श व पत्ती द्वारा क्रिया करके लम्बे समय तक उगे हुए तथा बाद में उगने वाले खरपतवारों का नियंत्रण करता है। यह प्याज, लहसुन फसल में सांवा, सुनहरी घास, चिनयारी, मकड़ाघास, बथुआ, कुंजरू, चौलाई का प्रभावी नियंत्रण करता है।श्री पंचारिया ने कहा कि किसान भाईयों को फसल में खरपतवारों के पूर्ण प्रभावी नियंत्रण के लिए डेकल खरपतवारों की 2-3 पत्ती अवस्था में छिड़काव करना चाहिए। छिड़काव के समय खेत में अच्छी नमी होना चाहिए। डेकल को किसी भी कीटनाशी या टॉनिक के साथ मिलाकर स्प्रे नहीं करना चाहिए। इसका स्प्रे नैपसैक स्प्रेयर तथा खरपतवार नोजल (फ्लेट फेन)
से ही करना चाहिए। डेकल की मात्रा 350 मिली प्रति एकड़ 120 से 150 लीटर पानी में मिलाकर खेत में स्प्रे करना चाहिए।

www.krishakjagat.org
Share
Share