निमाड़ विकास प्राधिकरण का होगा गठन

www.krishakjagat.org
Share

भोपाल। नर्मदा जयंती पर गत दिनों जीवन-दायिनी माँ नर्मदा के तट पर विकसित प्रमुख पर्यटन-स्थल हनुवंतिया में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्री-मण्डल की बैठक में निमाड़ विकास प्राधिकरण के गठन और 6 नये मिशन बनाने का निर्णय लिया गया।
बैठक में इस बात पर जोर दिया गया कि निमाड़ मध्यप्रदेश का महत्वपूर्ण अंचल है। अंचल में विकास की अपार संभावनाएँ हैं। सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा सहित अन्य आधारभूत संरचनाओं के सुनियोजित विकास के लिये निमाड़ विकास प्राधिकरण का गठन किया जायेगा। प्राधिकरण विकास संबंधी योजनाएँ बनाकर उसका क्रियान्वयन करेगा।
मंत्री-मण्डल की बैठक में 6 नये मिशन बनाने का भी निर्णय लिया गया। इनमें सूक्ष्म सिंचाई, कृषि वानिकी, युवा सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, आवास और नर्मदा सेवा मिशन शामिल हैं। सूक्ष्म सिंचाई मिशन में सूक्ष्म सिंचाई परियोजनाओं को प्रोत्साहित किया जायेगा। मिशन में जल-संसाधन, नर्मदा घाटी विकास और कृषि उद्यानिकी विभाग समन्वित रूप से प्रयास कर सूक्ष्म सिंचाई रकबे में बढ़ोत्तरी करेंगे। प्रदेश में सूक्ष्म सिंचाई क्षमता 75 हजार हेक्टेयर प्रतिवर्ष से बढ़ाकर 4 से 5 लाख हेक्टेयर प्रतिवर्ष करने का लक्ष्य प्रस्तावित है।
कृषि वानिकी मिशन में कृषकों की आय को दोगुनी करने के लिये कृषि वानिकी को बढ़ावा दिया जायेगा। मिशन में कृषि, उद्यानिकी और वन विभाग समन्वय से कार्य करेंगे। कृषि वानिकी में कम निवेश में अधिक लाभ की संभावना है।
नर्मदा सेवा मिशन के जरिये वृक्षारोपण, सीवरेज के पानी का उचित निपटारा करने, घाटों का शुद्धिकरण, सफाई व्यवस्था जैसे कार्य व्यापक पैमाने पर किये जायेंगे।
इस कार्य में ग्रामीण विकास, नगरीय विकास एवं आवास, उद्यानिकी और वन विभाग संयुक्त रूप से काम करेंगे।

www.krishakjagat.org
Share
Share