नवलसिंह शक्कर कारखाने को मिला बेस्ट को-ऑपरेटिव शुगर फैक्ट्री अवॉर्ड

www.krishakjagat.org
Share

बुरहानपुर। राष्ट्रीय सहकारी शक्कर कारखाना संघ मर्या.,नई दिल्ली द्वारा नवलसिंह सहकारी शक्कर कारखाना बुरहानपुर को वर्ष 2015-16 श्रेष्ठ वित्तीय प्रबंधन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर बेस्ट को-ऑपरेटिव शुगर फैक्ट्री अवार्ड से सम्मानित किया गया। मध्यप्रदेश के लिए यह राष्ट्रीय पुरस्कार अत्यंत ऐतिहासिक है एवं बुरहानपुर जिले के लिए अभूतपूर्व गौरवमयी उपलब्धि है। म.प्र.में गन्ने का सर्वाधिक भाव देने वाले नवलसिंह सहकारी शक्कर कारखाना को एक समारोह में श्री दिलीप वालसे पाटील, अध्यक्ष राष्ट्रीय सहकारी शक्कर कारखाना संघ, नई दिल्ली एवं श्री जी.एस.साहू चीफ डायरेक्टर उपभोक्ता मामले एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली नेे यह पुरस्कार दिया। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2005 से आज तक लगातार नवलसिंह सहकारी शक्कर कारखाना पुरस्कृत किया जा रहा है। समारोह में कारखाने की अध्यक्ष श्रीमती किशोरीदेवी शिवकुमार सिंह, उपाध्यक्ष, प्रकाश दीना महाजन, संचालक व प्रोजेक्ट डायरेक्टर ठा. वीरेन्द्रसिंह, संचालकगण सर्वश्री कैलाश पाटील, रमेश महाजन, नरेन्द्र पटेल, डॉ. नारायणराव पाटील, दत्तु शंकर महाजन, रामराज रामकिशन, पूर्व विधायक मंजुश्री, पूर्व जिला पंचायत सदस्य एवं युवा नेता ठा. सुरेन्द्रसिंह (शेरा भैय्या) संभाजी पाटनकर, मनोज सावदेकर, सुकलाल खानु, प्रबंध संचालक सी.एस.डावर, पवन पाटीदार सहित अनेक लोग उपस्थित थे।कारखाने की अध्यक्ष श्रीमती किशोरी देवी सिंह ने इस पुरस्कार को संचालक ठाकुर वीरेन्द्रसिंह के प्रबंधकीय क्षमता, पारदर्शी वित्तीय प्रबंधन, प्रशासनिक कुशलता एवं संचालक मंडल के नेतृत्व निपुणता का परीणाम निरूपित किया। ठा. वीरेन्द्रसिंह ने कहा कि यह पुरस्कार क्षेत्र के जागरूक कृषकों की मेहनत का नतीजा है। आपने इस सम्मान को किसानों के लिए समर्पित किया। ज्ञातव्य है कि नवल सिंह सहकारी शक्कर कारखाने को पूर्व में भी कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है।

www.krishakjagat.org
Share
Share