दूध व्यापार को बनाएं लाभप्रद

www.krishakjagat.org
Share

धार। कम लागत में अधिक दूध उत्पादन कर कृषक दुग्ध व्यवसाय को लाभप्रद बना सकते हैं। उक्त बात आत्मा परियोजना धार द्वारा इंदौर सहकारी दुग्ध संघ एवं पशु पालन विभाग धार के संयुक्त तत्वावधान में दुग्ध उत्पादकों के प्रशिक्षण हेतु पशुपालन एवं प्रबंधन प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथियों ने कही। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संचालक दुग्ध संघ श्री कमलसिंह रघुवंशी, परियोजना प्रशासक आत्मा श्री नगीन रावत, उपसंचालक पशुपालन डॉ. मनीष इंगोले थे। पशु चिकित्सा महाविद्यालय महू के प्रोफेसर डॉ. एम.के. मेहता एवं डॉ. संदीप नानावटी, इंदौर दुग्ध संघ के महाप्रबंधक श्री अतुल येवलेकर ने पशु पालकों की जिज्ञासा को शांत किया। प्रशिक्षण में महिलाओं की सहभागिता मुख्य रूप से रही। संचालन श्री एन.के. पगारे प्रबंधक दुग्ध संघ धार द्वारा किया गया।
ये सीखा : प्रशिक्षण में दुधारू पशुओं के संतुलित आहार, वर्ष भर हरा चारा उत्पादन, हरे चारे का संतुलित आहार में शरीर के लिये आवश्यक सूक्ष्म तत्व, दुधारू पशुओं का प्रबंधन एवं बीमारी से बचाव तथा इलाज कैसे हो – इन विषयों का समावेश किया गया।

www.krishakjagat.org
Share
Share