जैविक कृषि कर्मण पुरस्कार की स्थापना हो

www.krishakjagat.org
Share

प्रधानमंत्री को लिखा पत्र
भोपाल। प्रदेश के जाने-माने कृषि विशेषज्ञ एवं पूर्व गन्ना आयुक्त म.प्र. डॉ. साधुराम शर्मा ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर जैविक कृषि कर्मण अवार्ड स्थापित करने का सुझाव दिया है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि भारत सरकार द्वारा सकल उत्पादकता में वृद्धि आधार पर विभिन्न फसलों में राज्यों को कृषि कर्मण पुरस्कार प्रति वर्ष प्रदान किये जा रहे हैं, इससे राज्यों में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा का संचार हुआ है एवं उत्पादन में आशातीत वृद्धि हुई है।
समय की मांग है कि इस कृषि कर्मण पुरस्कार श्रृंखला में जैविक कृषि को जोड़ा जाये एवं अगले वर्ष से ही अलग जैविक कृषि कर्मण पुरस्कारों को खाद्यान्नों/दलहनों/तिलहनों आदि के जैविक उत्पादन हेतु राज्यों को आह्वान किया जाये। इससे गैर रसायनिक, विष रहित खेती को प्रोत्साहन मिलेगा। जन स्वास्थ्य में वृद्धि होगी। सबसे बड़ी बात कि देसी गाय के पालन को प्रोत्साहन व संरक्षण मिल सकेगा। जैविक उत्पादों के निर्यात अवसर उज्जवल होंगे। खेती का लागत मूल्य घटेगा व कृषकों का मुनाफा बढ़ेगा। कृषक आत्महत्याओं पर भी पूर्ण अंकुश लगेगा।

www.krishakjagat.org
Share
Share