कोस्ते में किसान संगोष्ठी का आयोजन

www.krishakjagat.org
Share

बालाघाट। राणा हनुमानसिंह कृषि विज्ञान केन्द्र बडग़ॉव बालाघाट जिले में संचालित निकरा परियोजना में अंगीकृत ग्राम कोस्ते में गत दिवस किसान संगोष्ठी का आयोजन किया गया । जिसमें किसानों से चर्चा के दौरान कार्यक्रम समन्वयक डॉ. आर. एल. राउत द्वारा निकरा परियोजना के उद्देश्य से अवगत कराया गया एवं बायोगैस के महत्व के बारे में जानकारी दी गई। इसके साथ ही कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डॉ. एस. आर. धुवारे ने कृषकों को धान में मेडागास्कर पद्धति से होने वाले फायदे से अवगत कराया एवं प्रेरित किया।
कोस्ते में आयोजित इस किसान संगोष्ठी में कृषि महाविद्यालय वारासिवनी से डॉ. उत्तम बिसेन, सहायक प्राध्यापक ने कृषकों को रबी फसल में आने वाले कीट व्याधियों की पहचान एवं साथ ही रोकथाम के उपाय भी बताये। कृषि महाविद्यालय वारासिवनी से डॉ. शरद बिसेन, सहायक प्राध्यापक ने कृषकों से चर्चा के दौरान सब्जियों की उत्तम जातियां एवं अधिक उत्पादन के गुर बताये।
संगोष्ठी में श्री रमेश अमूले (वरिष्ठ अनुसंधान सहायक) कृषि विज्ञान केन्द्र बडग़ॉव, बालाघाट ने कृषकों को निकरा परियोजना से संबंधित जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि निकरा परियोजना का उद्देश्य मौसम परिवर्तन से होने वाले फसलों पर प्रभाव को कम करना एवं मौसम पूर्वानुमान कर कृषकों को उपयुक्त फसल का चुनाव एवं जल का संरक्षण कर उत्पादन को बढ़ावा देना है। प्रशिक्षण के दौरान ग्राम कोस्ते के सरपंच मंगल खरे एवं उपसरपंच प्रेमलाल गुर्जर उपस्थित रहे। प्रशिक्षण के दौरान श्री रमेश अमूले द्वारा कृषकों का आभार व्यक्त किया गया।

www.krishakjagat.org
Share
Share