कृषि उत्पादकता में मधुमक्खी पालन का विशेष योगदान : श्री चतुर्वेदी

www.krishakjagat.org
Share

बुरहानपुर। मधुमक्खी पालन से कृषि की उत्पादकता में 25-30 प्रतिशत वृद्धि होती है। साथ ही शहद एवं मोम के रूप में उत्पाद प्राप्त होते है। इससे किसानों को अतिरिक्त आय प्राप्त होती है।आत्मा परियोजना संचालक श्री राजेश चतुर्वेदी ने बताया कि इच्छुक कृषक समूह बनाकर मधुमक्खी पालन के प्रशिक्षण के लिये कार्यालय आत्मा परियोजना संचालक, किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग में पंजीयन करवाकर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। मधुमक्खी पालन के लिये प्रशिक्षण माह जून से प्रारंभ किया जायेगा।

www.krishakjagat.org
Share
Share