अस्पी ने किसानों को किया पुरस्कृत

www.krishakjagat.org
Share

मुम्बई। अस्पी एग्रीकल्चर एण्ड रिसर्च फाउण्डेशन ने अपने 18वें अस्पी एल.एम. पटेल अवॉर्ड से किसनों को पुरस्कृत किया। यह अवॉर्ड अस्पी के संस्थापक श्री एल.एम. पटेल की स्मृति में दिया जाता है। यह पुरस्कार तीन श्रेणियों बारानी, उद्यानिकी एवं सर्वोत्तम महिला कृषक को दिया जाता है। सभी विजेताओं को ट्रॉफी व रु. 1 लाख से सम्मानित किया जाता है।
वर्ष 2015-16 के अस्पी एल.एम. पटेल अवॉर्ड समारोह के मुख्य अतिथि डॉ. त्रिलोचन महापात्रा महानिदेशक भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद थे। कार्यक्रम में डॉ. के.एल. चड्डा पूर्व राष्ट्रीय प्रोफेसर (उद्यानिकी) एवं उप महानिदेशक (उद्यानिकी) भाकृअप भी उपस्थित थे। डॉ. महापात्रा ने इस अवसर पर कहा कि अस्पी फाउण्डेशन द्वारा भारतीय कृषि के विकास के लिए दिया जा रहा योगदान सराहनीय है। उन्होंने स्वतंत्रता से लेकर अब तक भारतीय कृषि के विकास को रेखांकित करते हुए कहा कि भारत आज खाद्य आयातक से खाद्य निर्यातक देश बन गया है। उन्होंने कहा कि किसान की आय में वृद्धि के लिए हमें साग-सब्जी, फल एवं फूल के प्रसंस्करण को बढ़ावा देना होगा। डॉ. चड्डा ने इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए राज्यों के कृषि महाविद्यालयों के वरिष्ठ वैज्ञानिकों के व्यापक प्रयासों के बारे में बताया। उन्होंने अंग्रेजी की पुस्तक द फार्म, फेम एंड फाच्र्यून के हिन्दी अनुवाद धरतीपुत्र- कृषि सिद्धि, प्रसिद्धि और समृद्धि नामक पुस्तक का विमोचन भी किया। पुस्तक का अंग्रेजी से हिन्दी अनुवाद श्री मनहर चौहान ने किया है।
कार्यक्रम के प्रारंभ में श्री शरद भाई पटेल ने स्वागत उद्बोधन दिया। आभार श्री राजीव पटेल ने व्यक्त किया। चित्र मेें श्री शरद पटेल एवं श्री किरन पटेल ने अतिथियों के साथ किसानों को सम्मानित किया।

www.krishakjagat.org
Share
Share