अब तक केवल 6 लाख किसानों से हुई खरीदी

www.krishakjagat.org
Share

12 लाख कतार में

भोपाल । प्रदेश में धीमी गति से हो रही समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब तक राज्य में 6 लाख किसानों से लगभग 52 लाख टन गेहूं की खरीदी की गई है और 12 लाख किसान कतार में है। अब इनकी बारी कब तक आती है या बीच में खरीदी बंद कर दी जाती है। यह वक्त बतायेगा।
ज्ञातव्य है इस वर्ष प्रदेश में 18 लाख से अधिक किसानों ने गेहूं बेचने के लिये पंजीयन कराया है।
मध्यप्रदेश में अब तक 52 लाख 43 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी समर्थन मूल्य पर की जा चुकी है। प्रदेश में 2,966 उपार्जन केन्द्र पर गेहूं खरीदी का कार्य चल रहा है। प्रदेश में 25 मार्च से शुरू की गयी गेहूं खरीदी का कार्य 26 मई तक चलेगा। इस वर्ष किसानों से 1450 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से गेहूं की खरीदी की जा रही है। खरीदे गये गेहूं के बदले किसानों को 7,603 करोड़ की राशि का भुगतान किया जा चुका है। प्रदेश में 47 लाख मीट्रिक टन गेहूं का परिवहन कर सुरक्षित भण्डारण करवाया जा चुका है।
अब तक 6 लाख 81 हजार 397 किसान से खरीदी की गई है। इस वर्ष 18 लाख 68 हजार किसान ने समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिये पंजीयन करवाया है।
प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी कार्य की मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारियों के साथ नियमित समीक्षा कर रहे हैं। मुख्य सचिव ने किसानों को गेहूं बेचने की तिथि से एसएमएस के माध्यम से पूर्व सूचना देने की व्यवस्था के सख्ती से पालन के निर्देश दिये हैं।

www.krishakjagat.org
Share
Share