अपनी बात

आवश्यकता है उत्पादों के निर्यात पर जोर

Hits: 19
भारत सरकार के कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग की वर्ष 2017-18 की वार्षिक रिपोर्ट में कृषि व्यापार संबंधी आकड़े एक सकारात्मक दिशा को दर्शाते हैं। इनमें मुख्य रूप से धान, कपास, गन्ना, काजू, अरंडी बीज तथा मूंगफली प्रमुख ह..

Read More


पूंजी की चपेट में पब्लिक का पानी

Hits: 18
सेवाओं का निजीकरण अब कोई खास बात नहीं रह गई है। पिछले दो दशकों से संचार, परिवहन, शिक्षा, स्वास्थ्य, बैंकिंग, बीमा जैसे आम जीवन से गहरे जुड़े क्षेत्रों में यह इस कदर हो रहा है कि अब सामान्य लगने लगा है, लेकिन पानी का निजीकरण ..

Read More


गेहूं में सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी के लक्षण और निदान

Hits: 30
सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी के मुख्य कारणों में अधिक उत्पादन देने वाली प्रजातियों का उगाना, कार्बनिक खाद की कम मात्रा देना तथा फसल अवशेषों को जला देना है। अभी तक किसान नत्रजन, फास्फोरस व पोटाश का इस्..

Read More


मिर्च को कीट-रोगों से बचायें

Hits: 28
प्रमुख रोग: इसमें प्रमुख रूप से आद्र्रगलन, भभूतिया रोग, उकटा, पर्ण कुंचन एवं श्यामवर्ण व फल सडऩ का प्रकोप होता है। आर्द्रगलन रोग: यह रोग ज्यादातर नर्सरी की पौध में आता है। इस रोग में सतह, जमीन ..

Read More


औषधीय फसल - अफीम

Hits: 29
जलवायु: अफीम की फसल को समशीतोष्ण जलवायु की आवश्यकता होती है। इसकी खेती के लिए 20-25 डिग्री सेल्सियम तापमान की आवश्यकता होती है। भूमि: अफीम को प्राय: सभी प्रकार की भूमि में उगाया जा सकता है परन्तु ..

Read More


महिला किसान दिवस

Hits: 46
नरसिंहपुर। कृषि विज्ञान केन्द्र नरसिंहपुर द्वारा ग्राम सूरजगांव में एक दिवसीय ''महिला किसान दिवस 2018'' ग्राम सरपंच श्रीमती संगीता मेहरा के मुख्य आतिथ्य में मनाया गया। इस अवसर पर कृषि विज्ञान केन्द्र नरसि..

Read More


स्वच्छ ईंधन के लिए एथेनॉल का विकल्प

Hits: 124
भारत वर्ष 2013 के आकलन के अनुसार भारत प्रतिदिन 3.7 मिलियन बैरल पेट्रोलियम उत्पाद उपयोग करता है, जबकि स्वयं भारत लगभग 1 मिलियन बैरल पेट्रोलियम तरल ईंधन का ही उत्पादन कर पाता है। चीन, अमरीका और रूस के बाद भारत दुनिया में चौथा सबसे बड़ा ऊ..

Read More


हमारी संवेदना की कसौटी है केरल की राष्ट्रीय त्रासदी

Hits: 307
भारत के सबसे खूबसूरत भूमि क्षेत्रों में से एक में, केरल आज बाढ़ की भयानक त्रासदी का सामना कर रहा है। पानी की स्थिति के चलते बच्चे, बूढ़े पुरुष, महिलाएं, युवा लोग अपनी आंखों से अपनी बर्बादी देख रहे हैं और मानसिक-शारीरिक यातनाओं का स..

Read More


दलहनी फसल मसूर उपजायें

Hits: 420
भूमि की तैयारी मसूर की खेती डोरसा तथा कन्हार भूमि में सफलतापूर्वक की जा सकती है अधिक पैदावार प्राप्त करने के लिए खेत की दो से तीन बार अच्छी तरह गहरी जुताई करना चाहिए। इसके बाद पाटा चलाकर गोबर की खाद अथवा नाडेप विधि से प्र..

Read More


लेजर लैण्ड लेवलर से लाभ ही लाभ

Hits: 463
लेजर लेवलर एक आधुनिक परिशुद्ध समतलीकरण यन्त्र है। यह परम्परागत विधियों से एकदम हटकर एक अत्याधुनिक तकनीक है, जिसमें लेजर में लगे किरणों के द्वारा लेवलर को अपने आप नियंत्रित करके भूमि को बराबर मात्रा में समतल कर देते हैं। इस यन्त..

Read More


Follow us on

Subscribe Here

For More Articles