कृषि में यंत्रीकरण तकनीक कृषकों के लिए लाभकारी : डॉ. बिसेन

जबलपुर। ज.ने. कृ. विश्वविद्यालय स्थित कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय में अ. भा. समन्वित अनुसंधान परियोजना ‘प्रक्षेत्र यंत्र एवं मशीनरी तथा कटाई उपरांत तकनीकी’ के सहयोग से तकनीकी एवं मशीनरी प्रदर्शन मेले का आयोजन किया गया।
मुख्य अतिथि कुलपति डॉ. प्रदीप कुमार बिसेन ने अपने उद्बोधन में कृषकों का मार्गदर्शन करते हुये कहा कि आधुनिक कृषि तकनीक आज के समय कृषकों की आवश्यकता है। कृषि में यंत्रीकरण तकनीक का उपयोग कृषकों के लिये लाभकारी है। कृषि यंत्र एवं शक्ति इंजीनियरिंग विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. अतुल श्रीवास्तव ने मेले की विस्तृत जानकारी दी। कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. आर.के. नेमा ने अतिथियों का पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के इंजी.आर.के. राणा एवं इंजी. मौर्य ने यंत्रीकरण के संबंध में विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी कृषकों को प्रदान की। इस अवसर पर डॉ. के.बी. तिवारी एवं डॉ. ए.के. गुप्ता ने वेल्यू एडीशन के माध्यम से अधिक धन-अर्जन के गुर बताये। मेले में विभिन्न जिलों से लगभग 650 कृषक एवं महिलाओं ने भाग लिया। अधिष्ठाता कृषि संकाय डॉ.पी.के. मिश्रा, संचालक अनुसंधान सेवाएं एवं संचालक शिक्षण डॉ. धीरेन्द्र खरे, संचालक विस्तार सेवाएं एवं अधिष्ठाता डॉ. (श्रीमती) ओम गुप्ता एवं संचालक प्रक्षेत्र डॉ. शरद तिवारी, विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। मेले के आयोजन में विभिन्न कम्पनी के ट्रैक्टरों के मॉडलों का प्रदर्शन किया गया।
कार्यक्रम का संचालन एवं आभार प्रदर्शन प्रमुख अन्वेशक डॉ. के.बी. तिवारी ने किया। इस अवसर पर डॉं. मोहन सिंह, प्रो. आर.के. दुबे, प्रो. खंडेवाल, डॉं. प्रीति जैन, डॉं. देवेन्द्र वर्मा तथा महाविद्यालय के छात्रगण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Share On :

Follow us on

Subscribe Here

For More Articles

Releated Articles